कुसुम योजना |ऑनलाइन आवेदन ,एप्लिकेशन फोरम |Pm Kusum Yojana,Online Apply,Form,Registration 2020

By | February 12, 2021

कुसुम योजना क्या है किसान को सोर ऊर्जा वाले पम्प योजना मे Registration ,सबसिडी लाभ कितना मिलता है योजाना ,फ्री बिजली योजना ,किसान ऊर्जा उत्थान महाअभियान |Kisan Urja Utthan Maha Abhiyan

Pm Kusum Yojana

प्रधानमंत्री कुसुम योजना 2020-21 मे 20 लाख किसानो को सोलर पम्प सेट देने की बात

कही गयी है प्यारे किसान भाइयो के लिए ये योजना बनाई गयी है जिसका मुख्य उद्देशय है

की किसानो को बिजली न होने पर भी खेत की सिंचाई मे कोई भी परेशानी न हो इस योजना के जरिये सूरज की रोशनी से चलने वाले पम्प मिलेगे यानि की जिनमे सूरज की रोशनी से सोलर प्लेट से बिजली बनेगी जो पम्पो को चलाएगी।

  • किसान ऊर्जा सुरक्षा व उत्थान महाभियान (कुसुम ) के तहत 2022 तक
  • देश मे तीन करोड़ पम्पो को डीजल व बिजली की जगह सोलर ऊर्जा से चलाया जाएगा

कुसुम योजना को तीन कम्पोनंट मे बाटा गया है।

  • Kusum Yojana Component A – इस योजना मे 500 मेगावाट से 2 मेगावाट क्षमता वाले
  • अक्षय ऊर्जा आधारित बिजली सयन्त्रो को बंजर भूमि पर स्थापित किया जाएगा
  • इसको खेतीयोगी भूमि पर भी लगाया जा सकता है सोलर पेनल के नीचे फसल भी उगाई जा सकती है।

उप परेशन लाइनों की उच्च लागत से बचने और पारेषण हानियो को कम करने के लिये उप स्टेशनो के पाँच किमी के दायरे मे नवीनीकरण ऊर्जा शक्ति परियोजना लागू की जाएगी पहले से तय टेरीफ़ पर स्थानीय डिस्कोंम द्वारा खरीदी गयी बिजली खरीदी जाएगी

  • Kusum Yojana Component B – इस घटक के तहत ऑफ ग्रिड क्षेत्रो मे मोजूद डीजल कृषि

पम्पो या सिंचाई प्रणाली मे प्रतिस्थापन के लिए 7.5 hp क्षमता के स्टेंड अलोन कृषि पम्प स्थापित करने के लिए व्यक्तिगत किसानो का समर्थन किया जाएगा जहा पर ग्रिड की आपूर्ति नहीं है वहा 7.5 hp से अधिक ऊर्जा वाले पंप भी लगाए जाएगे हालाकी वितीय सहायता 7.5 hp तक ही मिल पाएगी

  • Kusum Yojasna Component C -इस घटक के तहत ग्रिड से जुड़े कृषि पम्प वाले व्यक्तिगत किसानो को सोलराइज़ पम्पो का

समर्थन किया जाएगा किसान सिंचाई जरूरत को पूरा करने के लिए उत्पन्न सोर ऊर्जा का उपयोग करने मे सक्षम होगा और अतिरिक्त सोर ऊर्जा को पूर्व निर्धारित टेरीफ़ पर DISCOM को बेचा जाएगा ।

कुसुम योजना से किसानो को लाभ

योजना मे किसान को ये फायदा होगा की अगर किसान के पास बनजर भूमि है तो भी सोलर पेनल लगाकर किसान उस बिजली को discom को बेच सकता है जिसके एवज मे किसानो को discom पैसे देगा

  • किसानो को सबसिडी भी मिलती है जो की केंद्र और राज्य सरकारे देती है।
  • इस योजना से किसान अपने सिचित भूमि पर जहा बिजली नहीं पहुच प रही है।
  • उस जगह सोलर पंप लगा कर बिजली की पूर्ति भी कर सकते है।
  • साथ ही पेनल के नीचे भी खेती हो जाती है।
  • योजना से 17.5 लाख पम्प जो डीजल से चल रहे है सोलर ऊर्जा से चलाया जाएगा।
  • इस योजना से 28 हजार मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा।

इस योजना से 17.5 लाख डीजल पम्प के साथ 3 करोड़ खेती उपयोगी पम्पो आने वाले दस

सालो मे सोलर पम्प मे बदलने का लक्षय रखा है। इसमे योजना को बढ़ावा देने के लिए आगामी वर्षो के लिए 50 हजार करोड़ तक का बजट प्रयोग मे लाना तय किया गया है।

किसान को कितना धन लगाना है ?

कुसुम  योजना |ऑनलाइन आवेदन
कुसुम योजना |ऑनलाइन आवेदन

इस योजना मे किसानो परे किशि तरह से कोई ऋण का दबाव न पड़े उसके लिए सारा खर्चा

सरकार लोन और सबसिडी के रूप मे उठाती है जिसमे किसान को मात्र 10 फीसदी पैसा ही देना है।

अधिक जानकारी के लिए कुसुम योजना की वैबसाइट लिंक पर क्लिक करे साथ ही

किसान योजना के पक्षो को अधिकारी से समझ कर ही आवेदन करे

सरकारी योजनाए

आर्टिकल का उद्देशय

इस आर्टिकल के जरिये किसानो को फ्री बिजली योजना यानि कुसुम योजना को बताने और समझने का प्रयास किया है किसान इस योजना के जरिये अपनी बंजर भूमि को भी उपयोग मे ल सकता है

इसके जरिये किसान बिजली पेड़ा करके discom को बेच कर लाभ ले सकता है। कोई भी अधिक जानकारी के लिए संबन्धित विभाग मे भी सम्पर्क जरूर कर ले ।

  • pm kusum yojana की जानकारी देना
  • किसान बंजर भूमि पर भी कुसुम योजना का लाभ कैसे ले सकते है।

इस योजना के जरिये किसान आसानी से ऐसे भूमि पर भी फसल के लिए सिंचाई कर सकते है जहा पर बिजली नहीं है।

क्योकि हमारे भारत देश में किसान पुरे साल गर्मी में काम करते है अब उसी सूरज की रोशनी से हम आसानी से बिजली बनाकर फसल के लिए सोलर पम्प चलाकर सिचाई कर पाएंगे। ये योजना पहाड़ी किसानो के लिए बहुत उपयोगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *