वजीफा योजना 2021 -Scholarship 2021

By | February 19, 2021

वजीफा योजना 2021 -Scholarship 2021,स्कॉलर शिप योजना ,छात्रवृति योजना ,सरकारी स्कालरशिप योजना ,सरकारी वजीफा ,sc,st,obc scholarship 2021

वजीफा

https://dkhindinews.com/बुढ़ापा-पेन्सन-कैसे-ले-2020-old-age-pensan-gethow/

देश के अन्दर करोडो की जनसख्या है हर व्यक्ति अपने भोगोलिक परिवेश के सामने नतमस्तक है जिसमे सबसे बड़ा

वर्ग है। शिक्षा लेने वाले बालको का जो अपने आर्थिक वातावरण के चलते हुए पूरी शिक्षा नहीं ले पाता है जिश्मे सबसे

बड़ा कारण है उसके माता पिता जो अपनी गरीबी के कारण अपने बच्चो को शिक्षा नहीं दिला

पाता है जिसके चलते वे बच्चे अपने प्रतिभा के अनुसार विकास नहीं कर पाते है ।

वजीफा देने के कारण

इश परेशानी को दूर करने के लिए भारत सरकार ने एक योजना चलायी जिसके जरिये बालको को शिक्षा लेते समय आर्थिक

सहायता उपलब्ध करायी जा सके इश के अंतर्गत लोगो को सरकार पढ़ते रहने पर

एक निश्चित खर्चा देती है उश्का नाम रक्खा गया वजीफा या स्कॉलरशिप

स्कॉलरशिप के प्रकार

  • सामाजिक न्याय व् अधिकारिता से मिलने वाली
  • अल्पसख्यक विभाग से मिलने वाली
  • श्रम विभाग से मिलने वाली
  • मुख्य मंत्री योजना
  • भारतीय जीवन बिमा से मिलने वाली
  • विभिन्न संस्थाओ से मिलने वाली

सामाजिक न्याय व्अधिकारीता विभाग

http://www.sje.rajasthan.gov.in/ http:///

प्रत्येक राज्य में सरकार ने दलित पिछड़े लोगो के बच्चो को मदद देने के लिए एक विभाग की स्थापना की गयी है

जिसको एक निश्चित प्रकिया के तहत गरीब छात्रो की सहायता के लिए बजट दिया जाता है जो sc,st ,ओबीसी

के छात्रो की पहचान कर की वो किस क्लास में और कितने खर्चे पर पढ़ रहे है के अनुसार आर्थिक सहायता के रूप

में मदद उपलब्ध करायी जाती है जिसमे एक वजीफा योग्य छात्रो तक ही पहुचे इश्के लिए सबसे पहले शिक्षा देने

वाली संस्थाओ का पंजीकरन विभाग के जरिये किया जाता है जो इश बात को स्पष्ट करती है की छात्र विशेष उनकी

संस्था में क्लास में पढ़ रहा है ।

शिक्षा की प्रमाणिकता करने के बाद छात्र को अपना आवेदन पहले ऑफ लाइन करना होता है जिश्मे उशको कुछ

डोकोमेंट बनवाने होते थे जैसे की जो docoment

छात्र को जरुरत के अनुसार लगाने या बनवाने होते वो इश प्रकार है ।

जाति प्रमाण पत्र

  • जाति प्रमाण पत्र -जो जिले के तहशीलदार के जरिये बनया जाता है जो इश बात को प्रमाण करता है की
  • लाभ लेने वाला छात्र सम्बंधित जाति विशेष का है और सरकार के जरिये मिलने वाला लाभ सही जाति या
  • संबधित दलित को ही मिल रहा है ।

निवास प्रमाण पत्र

  • निवास प्रमाण पत्र -जो जिले के नगर परिषद् के जरिये बनाया जाता है जिसके जरिये छात्र विशेष के
  • उष क्षेत्र में निवास करने का प्रमाणीकरण करता है जिशके जरिये वो विभाग विशेष को अपने वहा निवास
  • करने का प्रमाण देता है

आय प्रमाण पत्र

  • आय प्रमाण पत्र -जो गाँव या शहर के सरकारी पदों या पद विशेष पर निर्वाचित होते है के जरिये यह
  • प्रमाण
  • किया जाता है की आवेदक की आय समस्त श्रोतो से इतनी है जिशके अंतर्गत वह सरकार से आर्थिक मदद लेने
  • का अधिकार रखता है
  • पहचान पत्र -जो फोटो सहित होता है जिश्मे छात्र की सही सही नाम ,पिता ,निवाश की जानकरी दी होती है
  • बैंक बचत खाता -बैंक में छात्र का बचत खाता होता है जो इश बात को प्रमाणित करता है की मिलने
  • वाला लाभ उस आवेदन करने वाले छात्र को ही मिल रहा है

समाज कल्याण के टोल फ्री नंबर 1800 -180-6127

विभाग ने अपने टोल फ्री नंबर जारी कर रक्खे है ताकि छात्र विशेष को कोई भी समस्या का निवारण यानि जानकारी से संबन्धित किया जा सके ताकि वो आसानी से योजना का लाभ ले सके और अपनी पढ़ाई जारी रख सके ये नंबर जयपुर के मुख्यालया के है जिस पर एक custumer care का अधिकारी बैठता है जो सभी समस्या यानि ऑनलाइन फोरम मे क्या क्या दिक्कत आ रही है उसका निवारण किया जा रहा है ।

ताकि गरीब और कम जानकार छात्र भी वजीफा योजना का पूरा पूरा फायदा उठा सके ।

समाज कल्याण की online form प्रक्रिया

जब लगा की दूरस्थ संस्था और छात्र ईश योजना का लाभ लेने मे तथा आवेदन की पूर्ति मे काफी परेशानी होती है तो विभाग ने स्कॉलर्शिप के आवेदन ऑनलाइन लेना शुरू कर दिया और जल्द से जल्द छात्रों को वजीफा मिल जाए ईश प्रक्रिया को और अधिक से अधिक शुधार किया जा रहा है जैसे की

भामाशाह का चलन

जैसे की छात्र का जल्द से जल्द सत्यापन हो जाए की छात्र विशेष फला समुदाय या जाती से संबद्ध रखता है के लिए परिवार का एक योजना के जरिये समुदाय या जाति का व योग्य होने या न होने का प्रमाणीकरण कर दिया जाता है । जिशसे छात्रो को वजीफा देने या जांच करने मे कोई दिक्कत नहीं आती है ।

ONLINE FORM

स्कॉलर शिप का ऑनलाइन फॉर्म भरने के लिए आवश्यक बाते

जो छात्र फॉर्म भर रहा है उसके DOCOMENT होने चाहिए

  • सबसे पहले उशकी माता का भामाशाह कार्ड बना हो जिशमे उसका नाम आधार्कार्ड के नम्बर ,मोबाइल नंबर और बैक खाता नंबर के साथ में जुड़ा होना चाहिए नाम के अक्षर की स्पेलिंग आधार्कार्ड और भामाशाह और भरे जाने वाले scholarship फॉर्म में एक समान होना चाहिए जिशशे की मिसमेच जैसी समस्या ना आये और फार्म तुरन्त पास हो जाये

जाति प्रमाण पत्र

  • जाति प्रमाण पत्र जो की नया और साफ सुथरा होना चाहिए ताकि स्केनिग के समय कोई गलती ना हो अधिअकारी को आसानी से जाति दिख जाये

निवास प्रमाण पत्र

  • निवास प्रमाण पत्र जो छात्र के उस राज्य में निवासी होने का प्रमाणित करता है भी होना चाहिए

बैंक खाता

  • बैंक खाता नेशनल यानि सरकारी बैंक मे खाता होना चाहिए जो भी आधार से लिंक किया हुआ और चालू हालात में होना चाहिए

पिता मृत्यु प्रमाण पत्र

  • पिता की मृत्यु हो जाने के स्थिति में उनका ओरिजनाल मृत्यु प्रमाण पत्र होना चाहिए जो स्केन किया जा सके

आयकर प्रमाण पत्र

  • आयकर प्रमाण पत्र अपने पिता नहीं होने की स्थिति में आयकर माँ की फोटो सहित नोटेरी किया और दो सरकारी पद के डॉक्टर या मान्य अध्यापक से गवाही प्रमाणित होना चाहिए की आप न्यूनतम आय वाले व्यक्ति है जो छात्रवृति लेने के हक़दार है साथ में अपने गाँव या परिचित के हस्ताक्षर भी उस पर पहचान कर्ता की मोहर के निचे पुरे नाम पते सहित होने चाहिए जो ये प्रमाणित करेगे की आप उस गाँव के निवासी हो
  • पिता के जीवित होने की दशा में पिता का ही फोटो लगवाकर नोटेरी सहित आय प्रमाण पत्र बनवाए

गैप प्रमाण पत्र

  • गैप प्रमाण पत्र जैसा की आप ने पढाई के बीच कोई गैप यानि दो क्लासों के बीच पढाई छोड़ी होतो स्टाम्प पर नोटेरी प्रमाणित गैप प्रमाण पत्र तहशील से छात्र को अपने नाम का बनवाना होता है जिश्मे उसको बीच में पढाई न करने के दोरान किये गए कार्य का उल्लेख करना होता है साथ ही अपने चरित्र यानी कोई केश आदि न लगे होने का भी बताना होता है

फीस रशीद

  • फीश रशीद जिश क्लास में छात्र पढ़ रहा है वहा के शिक्षा शुल्क की रशीद जो संस्था देती है लगानी होती है जो आप की दी जाने वाली फ़ीस का सत्यापन करता है

BPL प्रमाण पत्र

  • BPL प्रमाण पत्र जैसा की जो छात्र BPL श्रेणी से है उनको अपना BPL प्रमाण पत्र भी लगाना होता है उनका आय प्रमाण पत्र नहीं बनता है BPL प्रमाण पत्र की उनकी आय कम होने का प्रमाण होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *