किसान टोल फ्री नम्बर -FARMER TOLL FREE JARI-2020

By | April 5, 2021
किसान टोल फ्री नम्बर -FARMER TOLL FREE JARI-2020

किसान टोल फ्री नम्बर -FARMER TOLL FREE JARI-2020,KRUSHAK HELPLINE NO,KISAN TOLL FREE HELPLINE,PM KISAN HELPLINE CONTACT,PM KISAN

कृषक अब तक कृषि कार्यो के लिए किसानो को बड़ी खुश

खबरी जानकारी में आई है जहा एक और किसान अपनी कर्ज

माफ़ी योजनाओ के जरिये अपने जमीनों को बोने के लिए कर्ज

माफ़ी का फायदा उठा चुके है तो दूसरी और किसान अपनी pm किसान सम्मान निधी योजना से भी बराबर आने वाली किस्तों

का लाभ ले रहे है ।

किसान लोन के लिए क्लीक करे

जैसा की पहले किसान दिन हिन् बनकर साहुकारो जमीदारो के

लिए खेती करते थे और साथ साथ एक वक्त की रोटी ही नसीब

में हो पाती थी इसके बदले किसानो को अपनी जमींन तक बोने

के किये गिरवी रखनी पड़ती थी साथ ही अपने पशुओ का दूध दही

भी साहुकारो को ब्याज बट्टे के रूप में देना पड़ता था जो लेकिन अब

pm नरेन्द्र मोदी ने आम किसान की पीड़ा को समझा और 100 %

दूर करने का प्रयास किया जैसा की आम जन से pm तक की सीडी

पर पहुचे हमारे प्रधान मंत्री ने जब किसानो से मन की बात प्रोग्राम

के जरिये आम किसान से बात की तो उनके समझ में आया की कोई भी समय रहा हो चाहे गुलामी का अंग्रेजो का समय या आजादी के बाद का भारत के लोकतंत्र का समय जो किसानो की आवाज को कैसे सुना या समझा जाये तो इसके लिए pm ने pm निधी योजना जिसमे हर छोटे किसानो को तीन किस्तों के जरिये कुल 6000 रूपये किस सहायता राशि दी गयी को एक वेबसाइट के जरिये आयोजित किया गया जिश्का लिंक है https://www.pmkisan.gov.in/

pm किसान सम्मान निधि कैसे योजना चली कारन

इश पर किसान खुद अपनी जानकारी भर सकता है की उसका

भूमि का ब्यौरा क्या है क्या उसका आधार नम्बर है किस बैंक में बचत खाता है क्या उसने जो फार्म भरा था अपनी किसान सम्मान निधि का उसमे से किशी ने उसका हक़ तो नहीं मार लिया है ।

पढ़े लिखे किसान को फायदा योजना

जैसा की अभी बात की जा रही थी की किसानो का हक़ साहूकार जमीदार ही मार लेते थे ।

इनसे पीछा छूटा तो सरपंच आला अधिकारी भी अपना हिस्सा लेने से नहीं चुकाते थे चुकी इसके बाद जब वेबसाइट का चलन हो गया तो भी अभी बाकि था किसान पंजीकरण अब जैसा की सरकारों ने खुद ही बता दिया था की हम जब जनता को एक रुपया भेजते है मदद का तो बिचोलिये रस्ते मेही 75%रासी को खा जाते है अब चुकी वेबसाइट पर भी किसान खुद ही अपना डाटा डालने लगे तो

बिचोलियों का कनेक्शन पूरी तरह से कट गया और किसानो के खातो में राशि शिधा शिधा जाने लगी ।

किसान हेल्प लाइन क्यों शुरू हुई

जैसा की किसानो की सख्या बहुत ज्यादा है जो लगभग देश का 75%जनसख्या का हिस्सा है चुकी किसान जो पढ़े लिखे थे उन्होंने तो pm किसान सम्मान निधि की वेबसाइट में किसान कॉर्नर में जा अपनी समस्या जैसे की नाम का बैंक खाते में और आधार कार्ड में अलग होने का या आधार नंबर गलत डालने का जानकारी स्टेटस में कर लिया अब बारी आई ।

निरक्षर किसान की जो माउस को पकड़ना नहीं जनता है और न ही किशी तरह से इंटरनेट पर भरे गए सम्मान निधि के फॉर्म का स्टेटस जान पाया जैसा की अब भी हमारा अनंदाता अपने मिलने वाले लाभ योजना के अनुसार नहीं ले पाया तो सरकारों ने जाना की किसानो को किसान निधि की योजना का लाभ 100 %नहीं मिल रहा है और जो टोल फ्री नम्बर है वो किसानो की सख्या अधिक होने के कारन बीजी आते है जिस्शे किसान हतास और निरास हो जाते है और अपना मन मसोस कर रह जाता है ।

किसान हेल्पलाइन के नम्बर

किसानो को pm किसान सम्मान निधि में कोई समस्या ना आये वो बेबाक रूप से अपनी समस्या को pm किसान योजना के मुख्य अधिकारी तक पंहुचा सके इशलिये दिए गए हेल्पलाइन है

घर बैठ का जाने pm किसान सम्मान निधि

किसान हेल्प लाइन टोल फ्री

अब ऊपर दिए गए टोल फ्री नम्बर पर जब कोल करेगे तो कंप्यूटर बोलेगा वह जैसे जैसे आपको जानकारी लेने की बात कहे आप को मोबाइल से वो बताये अनुसार नंबर डालते रहना है कई बार नेटवर्क न होने के कारन कॉल कनेक्ट नहीं होता है तो भी आप कुछ देर बाद टोल फ्री पर संपर्क करे साथ ही जब तक आपकी समस्या का निदान ना हो जाये तब तक टोल फ्री नंबर पर बात करना ना छोड़े ।

नोट -kisan toll free नम्बर बिलकुल फ्री है इस पर किशी तरह की फीस नहीं लगती है

किशी भी तरह से आप किशी अधिकारी या बिचोलिये के बहकावे में ना आवे pm किसान सम्मान निधि योग्य किसानो को ही दी जाती है ।

आर्टिकल का उद्देशय

आजकल जैसा की देखने मे आता है की कोई भी तकनीकी रूप मे जानकार ही किशि समस्या को बता समझा सकता है इसलिए पीएम किसान सम्मान निधि योजना मे भी किसानो की काफी परेशानी है जो उनके सही तरीके से समझ नहीं आ पाती है जिससे की किसान पीएम किसान सम्मान निधि किस्त का लाभ नहीं ले पा रहे है ।

इस कारण से पीएम हेल्पलाइन का ये नमबर जारी किया गया है की किसानो को कोई भी परेशानी आए तो वो फोन से ही जान ले की उसको कैसे दूर किया जा सकता है या नहीं क्या क्या दस्तावेज़ लगाने है की नहीं जैसा की किसानो को जब सब जानकारी मिल जाएगी तो वो आसानी से इस परेशानी को दूर कर सकते है इसलिए इस आर्टिकल के जरिये किसानो को पीएम हेल्पलाइन का बताया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *